emotional sad shayari, sad shayari in hindi

emotional sad shayari. Sometime we feel sad and want to express our sadness. So Sad Shayari is the best option to express your inner sadness on social networks. Here we are having a large collection of Sad Shayari in Hindi on this page of this website. You can choose or select all type of Shayari according to your mood and share it where you want.

There is much reason for getting upset. And the best way to get relief of these heart burdens is by reading the sad poem, Sad Shayri, and sad SMS. You can find a huge number of sad quotes with HD quality images on this page. Click and read here Best 20 Emotional Love Quotes | For Him & Her

हम तुम्हें मुफ़्त में जो मिले हैं
क़दर ना करना हक़ है तुम्हारा..

मुजे ऊंचाइयों पर देखकर हैरान है बहुत लोग
पर किसी ने मेरे पैरो के छाले नहीं देखे…..

मौहब्बत की मिसाल में बस इतना ही कहूँगा
बेमिसाल सज़ा है किसी बेगुनाह के लिए।

इश्क में इसलिए भी धोखा खानें लगें हैं लोग
दिल की जगह जिस्म को चाहनें लगे हैं लोग..

दुनिया में मिला मुझे हजारों गम लेकिन
गम सबसे ज्यादा तेरे जाने का रहा

जब से थे तुम मेरे ज़िन्दगी में तो मैं खुशहाल था
अब किसी को जिंदगी में लाने से डर लगता है।

emotional sad shayari
emotional sad shayari

सिर्फ मोहब्बत ही ऐसा खेल है..
जो सिख जाता है वही हार जाता है।

अजीब सी चाहत है मेरे दिल में तेरे नाम को लेकर
ये आंसू भी निकलते है बस तेरे नाम की।

इस जहां में हम इतना भी नहीं हंसे
आज जितना हम तुझे याद करके रोए।

वो कहते हैं के उसे हम भूल चुके हैं
अजीब सा एहसास है
ये आंसू भी निकलते हैं उसी के नाम से।

इस दुनिया मेँ अजनबी रहना ही ठीक है….
लोग बहुत तकलीफ देते है अक्सर अपना बना कर

रिश्ते खराब होने की एक वजह ये भी है कि
लोग झुकना पसंद नहीं करते…

तुमने समझा ही नहीं…और ना समझना चाहा
हम चाहते ही क्या थे तुमसे… तुम्हारे सिवा.

एक अज़ीब सा रिश्ता है मेरे और ख्वाहिशों के दरम्यां
वो मुझे जीने नही देती… और मै उन्हे मरने नही देता..

लूट लेते हैं अपने ही वरना गैरों को क्या पता
इस दिल की दीवार कमजोर कहाँ से है

सीख जाओ वक्त पर किसी की चाहत की कदर करना..
कहीं कोई थक ना जाये तुम्हें एहसास दिलाते दिलाते..

तुम्हारे शहर का मौसम बड़ा सुहाना लगे..
मैं एक शाम चुरा लूँ अगर बुरा न लगे..

भूलना चाहो तो भी याद हमारी आएगी दिल की गहराई मे हमारी तस्वीर बस जाएगी.
ढूढ़ने चले हो हमसे बेहतर दोस्त
तलाश हमसे शुरू होकर हम पे ही ख़त्म हो जाएगी.

फूल सबनम में डूब जाते है
झख्म मरहम में डूब जाते है
जब आते है खत तेरे
हम तेरे गम में डूब जाते है.|

emotional sad shayari
emotional sad shayari

नसीरुद्दीन शाह के कुछ शेर

फिक्र इंसान पर तेरी हस्ती से ये रोशन हुआ
है पड़े मुर्गे तखैय्यूल की रसाई ता खुजा
था सरापा रूह तू बज्मे सुखन पेकर तेरा
जैब महफिल दे रहा, महफिल से पिन्हा भी रहा।

दिद तेरी आंख को उस हुस्न कि मंजूर है
बनके सोजे जिंदगी हर शे में जो मस्तूर है

महफिले हस्ती तेरी बरबत से है शर्मायादर
जिस तरह नदी के नग्मों से सकुते कोहसार

तेरे फिरदौस ए तखैय्यूल से है कुदरत की बहार
तेरे किस्ते फिक्र से उगते हैं आलम सब्जवार

जिंदगी मुजमा रह तेरी शोखिए तहरीर में
ताबे गोयायी से जुंबिस है लब ए तस्वीर में

नुत्ख के सौ नाज है तेरे लबे एजाज पर
मेहबे हैरत है सुरैया रीफअते परवाज़ पर

शाहिदे मजमू तसद्दुक है तेरे अंदाज पर
खंदुजन है गुंचऐ दिल्ली गुले सिराज पर

आह तू उजड़ी हुई दिल्ली में आर्मिदा है
गुलशने वैमर में तेरा हमनवा खाबीदा है

लुत्फ गायायी में तेरी हम्सारी मुमकिन नहीं
हो तखैय्यूल का ना जब तक फिक्र कामिल हमनशी

गेसुए उर्दू अभी मिन्नत वजीरे शाना है
शम्अ ये सौदाई दिल शोजी ये परवाना है

हाय अब क्या हो गई हिंदुस्तान की सर जमीं
आह ये नजारा आमोजे निगाहें नुक्तबी

ए जहानाबाद ए गहवा रहे इल्मो हुनर
हैं सरापा नाला ए खामोश तेरे बामो दर

जर्रे जर्रे में तेरे खाबिदा है शमसो क़मर
यूं तो पोशीदा है तेरी खाक में लाखों गोहर

दफन है तुझमें कोई फख्रे रोजगार ऐसा भी है
तुझमें पिन्हा कोई मोती आबाद ऐसा भी है

तुझे पाने के लिए हमने सब कुछ खो दिया
फिर भी मुझे कोई गम नहीं
अफसोस तो इस बात का है
सब कुछ खोकर भी तुझे पा ना सके हम

अगर पता होता के इतना तड़पाता है मोहब्बत
तो दिल जोड़ने से पहले हाथ जोड़ लेते

कोई तुम्हें हमारी तरह चाहे तो बता देना
कोई तुम्हें हमारी सताए तो बता देना
मोहब्बत तो कोई भी कर लेगा तुमसे
कोई हमारी तरह निभाए तो बता देना

कुछ अलग अंदाज के शेर

तुम्हें उससे मोहब्बत है तो हिम्मत क्यों नहीं करते
किसी दिन उसके दर्द पे रक्श ए वेहशत क्यों नहीं करते
इलाज अपना कराते फिर रहे हो जाने किस किससे
मोहब्बत करके देखो न, मोहब्ब्त क्यों नहीं करते

मेरे दिल की खराबी की खबर सुनकर कहा उसने
तुम अपने घर के चीजों की हिफाजत क्यों नहीं करते

मैं अपने साथ जज्बों की जमात लेकर आया हूं
जब इतने मूकतदी हो तो इमामत क्यों नहीं करते

अकेलेपन से कहां तालमेल होता है
खिलाड़ी इश्क में दो हो तो खेल होता
ना लेना इश्क़ के पर्चे में सौ से कम नंबर
क्योंकि यहां निन्यानवे लाने वाला भी फेल होता है।

जिंदगी हे सफर का सील सिला
कोइ मिल गया कोइ बिछड़ गया
जिन्हे माँगा था दिन रत दुआओ मे
वो बिना मांगे किसी और को मिल गया.

ना सोचा था जिनके लिए हम मर मिटे
एक दिन वही हमसे दूर हो जाएँगे
जीने की तमन्ना तो हम भी रखते थे
अब तेरे बिना कैसे जी पाएगे…

ये किस मोड़ पर तूने बिछड़ने की सोची
मुदत्तों बाद तो दिन सवरने लगे थे

वो मुझसे दूर…खुश है; और मै उसे खुश देखने के लिए दूर हूँ…

कौन कहता है कि वो मुझसे बिछड़कर खुश है…
जरा उनके सामने मेरा नाम लेकर तो देखना..

emotional sad shayari
emotional sad shayari

do line emotional sad shayari

ज़िन्दगी तो अपने ही दम पे जी जाती है यारों
किसी के सहारे से तो जनाज़े उठा करते हैं

सूनो तूम जल्दी से आजाओ…तो अच्छा है
वरना
तूम ना सही…….. मौत तो आनी ही है…..

अच्छा हुआ ये आंसू तुम्हारी आँखों में ख़ुशी के है..
मैं तो समझा मुझसे बिछड़ कर रोई हो..

घर का सन्नाटा अक्सर पूछता है..
जो अपने होते हैं वो अपने क्यों नहीं होते

सबको खुश रखना बड़ा मुश्किल है इसलिए हो सके तो माँ बाप को खुश रखने की कोशिश करना।

पति के लिए उसकी पत्नी रानी हो या ना हो
लेकिन
पिता के लिए उस कि बेटी हमेशा राजकुमारी ही होती हैं

emotional sad shayari
emotional sad shayari

अपनी आदतों के अनुसार चलने में इतनी गलतिया नहीं होतीं
जितनी दुनिया का लिहाज रखकर चलने में होती हैं…

जिन्दगी भर कोई साथ नहीं देता यह जान लिया हमने
लोग तो तब याद करते हैं जब वह खुद अकेले हों

सुनो कर दो करना बंद यूँ सितम हमपे..
हमने जो शुरू किया तो सह ना पाओगे

जिसको मिला हैं समंदर की गहराईयों से मिला हैं….
लाज़वाब मोती किसी को किनारे पर नही मिलते…..

रोटीयाँ उन्हीं की थालियों से कूडे तक जाती है… ….
जिन्हें एहसास नही होता ….भूख है क्या

मै श्रेष्ठ हूँ .यह आत्मविश्वास है लेकिन सिर्फ मैं ही श्रेष्ठ हूँ यह अहंकार है

रुके तो चांद जैसी है …चले तो हवाओं जैसी है … वो माँ ही है .. जो धूप में भी छाँव जैसी है….

ये प्यार भी कितना अजीब होता है ना
चाहे वो कितनी भी तकलीफ दे फिर भी सुकून सिर्फ उसी के पास मिलता हैं

Leave a Comment